JD Ornaments
Flo Rida - Whistle.

Xossip

Go Back Xossip > Mirchi> Stories> Hindi > जोरू का गुलाम

Reply Free Video Chat with Indian Girls
 
Thread Tools Search this Thread
  #91  
Old 19th March 2016
komaalrani's Avatar
Custom title
  Hero of Stories: Regularly posts good stories      
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 32,855
komaalrani has disabled reputations
Quote:
Originally Posted by ptfbd View Post
++++++++25
+25 with





Next Post today
______________________________
जोरू का गुलाम ,

Rains

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #92  
Old 19th March 2016
komaalrani's Avatar
Custom title
  Hero of Stories: Regularly posts good stories      
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 32,855
komaalrani has disabled reputations
जोरू का गुलाम पोस्ट २





कच्चे टिकोरे और आम रस




कंडोम जिस पेज पर थे , वहां गुड्डी की फोटोग्राफ्स थे ,शादी में डांस करते।

मैंने उन्हें इतना गुस्सा और दुखी कभी नहीं देखा था। वो वैसे भी कैंसरियन थे , राशि के हिसाब से , और गुस्सा होने पे या अकसर वैसे भी अपने शेल में घुस जाते थे।

उन्होंने कंडोम उठाकर झटक कर फर्श पर फ़ेंक दिया जैसे मैंने कैसी गन्दी चीज गुड्डी की तस्वीर के साथ रख दी हो। और फिर सम्हाल कर उस की फोटो को पोंछा और अपने हाथ से नीचे वाले ड्राअर में एलबम को रख के बंद किया। और बिना मुझसे कुछ बोले , मेरी ओर पीठ कर के सो गए.












जैसा मैंने पहले ही कहा था मेरे उनको फल एकदम पसंद नहीं है लेकिन आम से तो या ऐसी चिढ , बल्कि फोबिया।

एकदम तगड़ा फोबिया। और वो भी एकदम बचपन से ,उनके मायेकवाली किसी ने बताया था की ,क्लास में एक बार टीचर ने सिखाने की कोशिश की , एम फॉर मैंगो , लेकिन वो बोले नहीं। लाख टीचर ने कोशिश की ,मुरगा बना दिया , लेकिन नहीं।

और जब वो खाना खा रहे हों तो ,अगर टेबल पर आम तो छोड़िये ,टिकोरे की चटनी भी आ जाय , तो एकदम अलप्फ ,मेज से उठ जाएंगे। छूना तो छोड़िये नाम नहीं ले सकते। और सब उनको चिढ़ाते थे।

एक दिन ,अभी भी मुझे याद है ,१० अगस्त।



हम लोग दसहरी आम खा रहे थे मस्ती के साथ ( वो खाना खा के ऊपर चले गए थे ) और तभी मेरी छुटकी ननदिया आई। और मेरे पीछे पड़ गयी।








" भाभी ये आप क्या कर रही हैं ,आम खा रही हैं ?"



मैंने उसे इग्नोर कर दिया फिर वो बोली

,मेरे भैय्या , आम छू भी नहीं सकते ,"

" अरे तूने कभी अपनी ये कच्ची अमिया उन्हें खिलाने की कोशिश की , कि नहीं , शर्तिया खा लेते " चिढ़ाते हुए मैं बोली।

जैसे न समझ रही हो वैसे भोली बन के उसने देखा मुझे।

" अरे ये , " और मैंने हाथ बढ़ा के उसके फ्राक से झांकते , कच्चे टिकोरों को हलके से चिकोटी काट के चिढ़ाते हुए इशारा किया और वो बिदक गयी।






" ये देख रही हो , अब ये चाहिए तो पास आना पड़ेगा न "


मुस्करा के मैंने अपने गुलाबी रसीले भरे भरे होंठों की ओर इशारा करके बताया।






और एक और दसहरी आम उठा के सीधे मुंह में , "





और एक पीस उसको भी दे दिया , वो भी खाने लगी , मजे से।

थे भी बहुत रसीले वो।
लेकिन वो फिर चालू हो गयी ,


" पास भी नहीं आएंगे आपके , मैं समझा रही हूँ आपको , मैं अपने भैया को आपसे अच्छी तरह समझतीं हूँ, आपको तो आये अभी तीन चार महीने भी ठीक से नहीं हुए हैं . अच्छी तरह से टूथपेस्ट कर के , माउथ फ्रेशनर , वरना, "


उस छिपकली ने गुरु ज्ञान दिया।


मैं एड़ी से चोटी तक तक सुलग गयी ,ये ननद है की सौत और मैंने भी ईंट का जवाब पत्थर से दिया।

" अच्छा , चलो लगा लो बाजी। अब इस साल का सीजन तो चला गया , अगले साल आम के सीजन में अगर तेरे इन्ही भैय्या को तेरे सामने आम न खिलाया तो कहना। "


मैंने दांव फ़ेंक दिया।



______________________________
जोरू का गुलाम ,

Rains

Last edited by komaalrani : 8th May 2017 at 07:45 PM.

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #93  
Old 19th March 2016
komaalrani's Avatar
Custom title
  Hero of Stories: Regularly posts good stories      
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 32,855
komaalrani has disabled reputations
लग गयी बाजी


" अच्छा , चलो लगा लो बाजी। अब इस साल का सीजन तो चला गया , अगले साल आम के सीजन में अगर तेरे इन्ही भैय्या को तेरे सामने आम न खिलाया तो कहना। " मैंने दांव फ़ेंक दिया।

लेकिन वो भी , एकदम श्योर। " अरे भाभी आप हार जाएंगी फालतू में , उन्हें मैं इत्ते दिनों से जानती हूँ। खाना तो दूर वो छू भी लें न तो मैं बाजी हार जाउंगी। "



वो बोली।





लेकिन मैं पीछे हटने वाली नहीं थी ,





" ये मेरे गले का हार देख रही हो पूरे ४५ हजार का है। अगर तुम जीत गयी तो तुम्हारा ,वरना बोलो क्या लगाती हो बाजी तुम ,"

तब तक मेरी जेठानी भी आगयी और उसे चिढ़ाती बोलीं ,

" अरे इसके पास तो एक ही चीज है देने के लिए। "


पर मेरी छुटकी ननद , एकदम पक्की श्योर बोली। " आप हार जाइयेगा। "

जेठानी फिर बोलीं , मेरी ननद से


" अरे अगर इतना श्योर है तो लगा ले न बाजी क्यों फट रही है तेरी। "

और ऑफर मैंने पेश किया , "ठीक है तू जीत गयी तो हार तेरा और मैं जीत गयी तो बस सिर्फ चार घंटे तक जो मैं कहूँगी ,मानना पडेगा। "

पहली बार वो थोड़ा डाउट में थी। " अरे मेरे सीधे साधे भैया को जबरन पकड़ के उसके मुंह में डाल दीजियेगा आप लोग , फिर कहियेगा ,जीत गयीं " बोली गुड्डी।


" एकदम नहीं वो अपने हाथ से खाएंगे , बल्कि तुझसे कहेंगे ,तेरे हाथ से खुद खाएंगे अब तो मंजूर। और तुझे भी अपने हाथ से खिलायंगे। एक साल के अंदर। अब मंजूर। "


मैंने शर्त साफ की और वो मान गयी।

मेरी जेठानी ने मेरे कान में कहा , सुन तेरा हार तो अब गया।[







और कुछ ही दिन में उनका ट्रांसफर हो गया , घर से काफी दूर। और मैं भी उनकी जॉब वाली जगह पे आ गयी।











कच्चे टिकोरे छुटकी ननदिया के
______________________________
जोरू का गुलाम ,

Rains

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #94  
Old 19th March 2016
komaalrani's Avatar
Custom title
  Hero of Stories: Regularly posts good stories      
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 32,855
komaalrani has disabled reputations
अब मेरी बारी










और कुछ ही दिन में उनका ट्रांसफर हो गया , घर से काफी दूर। और मैं भी उनकी जॉब वाली जगह पे आ गयी।


और एक दिन मैं सोच रही थी उनके बारे में।


ढेर सारी अच्छाइयां है उनमें , बहुत ही पोलाइट ,केयरिंग ,इंटेलिजेंट ,वेल रेड , लेकिन, जैसे मन में गांठे ही गांठे हों। फिर उनके मायकेवालों के बारें में और,....मुझे लगा , बात ये ही की ये बहुत ही इंट्रोवर्ट हैं।

वहां तक तब भी गनीमत थी , लेकिन एक इमेज ,' अच्छे बच्चे ' की इनके मन में बचपन से बैठा दिया गया है , और बस वो उसी के हिसाब से, जबकि अब वो बच्चे नहीं रहे, फिर भी।

और अब अपनी उसी इमेज में वो ट्रैप हो चुके हैं। इसी लिए कभी भी , वो खुल कर , यहाँ तक की 'उस समय ' भी , अच्छे बच्चे की तरह , इसलिए वो न मस्ती कर पाते थे न , ....एक सेन्स आफ गिल्ट सा , लेकिन अब उस कैद से उन्हें छुड़ाने का काम मेरा ही था।


जैसा परी कथाओ में होता है न किसी शापित राजकुमार को तिलस्म तोड़कर कोई राजकुमारी आजाद कराती है , तो बस इस घुटन भरे तहखाने से उन्हें बाहर निकालने का काम , मुझे ही करना था।

कैसे , ये सोचना मेरा काम था लेकिन मम्मी की सलाह के बिना तो , इतना बड़ा आपरेशन हाथ में लेना , उन्होंने न सिर्फ सुना बल्कि सलाह भी दी।




फिर मम्मी को मैंने अपनी छुटकी ननद से लगी बाजी के बारे में भी बत्ताया और हंसकर कहा ,


अगले मौसम में मैं सोचती उस गुड्डी के रसीले गदराये आमों की ही उन्हें दावत करा दूँ।

" एकदम " मम्मी ने हंस के कहा ,और जोड़ा और उसके बाद उस छिनाल ननद को मेरे पास भेज देना न ,पूरे गाँव की पंगत जिमा दूंगी।


बस मैंने तय कर लिया था ,अब क्या करना है।

एक बात और मैंने नोटिस की 'उनके ' बारे में , लेकिन वो राज बाद में खोलूंगी.







______________________________
जोरू का गुलाम ,

Rains

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #95  
Old 19th March 2016
sheraz007's Avatar
Custom title
 
Join Date: 7th March 2016
Location: india
Posts: 1,274
Rep Power: 12 Points: 6759
sheraz007 has celebrities hunting for his/her autographsheraz007 has celebrities hunting for his/her autographsheraz007 has celebrities hunting for his/her autographsheraz007 has celebrities hunting for his/her autographsheraz007 has celebrities hunting for his/her autographsheraz007 has celebrities hunting for his/her autograph
to u mam

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #96  
Old 19th March 2016
neerathemall's Avatar
Custom title
 
Join Date: 29th October 2012
Posts: 85,090
Rep Power: 92 Points: 17310
neerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universeneerathemall is one with the universe
Quote:
Originally Posted by komaalrani View Post
अब मेरी बारी





< image >




और कुछ ही दिन में उनका ट्रांसफर हो गया , घर से काफी दूर। और मैं भी उनकी जॉब वाली जगह पे आ गयी।


और एक दिन मैं सोच रही थी उनके बारे में।


ढेर सारी अच्छाइयां है उनमें , बहुत ही पोलाइट ,केयरिंग ,इंटेलिजेंट ,वेल रेड , लेकिन, जैसे मन में गांठे ही गांठे हों। फिर उनके मायकेवालों के बारें में और,....मुझे लगा , बात ये ही की ये बहुत ही इंट्रोवर्ट हैं।

वहां तक तब भी गनीमत थी , लेकिन एक इमेज ,' अच्छे बच्चे ' की इनके मन में बचपन से बैठा दिया गया है , और बस वो उसी के हिसाब से, जबकि अब वो बच्चे नहीं रहे, फिर भी।

और अब अपनी उसी इमेज में वो ट्रैप हो चुके हैं। इसी लिए कभी भी , वो खुल कर , यहाँ तक की 'उस समय ' भी , अच्छे बच्चे की तरह , इसलिए वो न मस्ती कर पाते थे न , ....एक सेन्स आफ गिल्ट सा , लेकिन अब उस कैद से उन्हें छुड़ाने का काम मेरा ही था।


जैसा परी कथाओ में होता है न किसी शापित राजकुमार को तिलस्म तोड़कर कोई राजकुमारी आजाद कराती है , तो बस इस घुटन भरे तहखाने से उन्हें बाहर निकालने का काम , मुझे ही करना था।

कैसे , ये सोचना मेरा काम था लेकिन मम्मी की सलाह के बिना तो , इतना बड़ा आपरेशन हाथ में लेना , उन्होंने न सिर्फ सुना बल्कि सलाह भी दी।

< image >


फिर मम्मी को मैंने अपनी छुटकी ननद से लगी बाजी के बारे में भी बत्ताया और हंसकर कहा ,


अगले मौसम में मैं सोचती उस गुड्डी के रसीले गदराये आमों की ही उन्हें दावत करा दूँ।

" एकदम " मम्मी ने हंस के कहा ,और जोड़ा और उसके बाद उस छिनाल ननद को मेरे पास भेज देना न ,पूरे गाँव की पंगत जिमा दूंगी।


बस मैंने तय कर लिया था ,अब क्या करना है।

एक बात और मैंने नोटिस की 'उनके ' बारे में , लेकिन वो राज बाद में खोलूंगी.







< image >
ग्रेट थ्रेड

great thread










[quote=neerathemall;66267078]
Quote:
Originally Posted by neerathemall View Post
< image >

कठोर पीनस्तन भारनम्रा
सुमध्यमा चञ्जलखञ्जनाक्षी ।
हेमन्तकाले रमिता न येन
वृथा गतं तस्य नरस्य जीवितम् ॥


जिस पुरुष ने हेमंत ऋतु में, कठोर और भरे हुए स्तन के भार से झुकी हुई, पतली कमरवाली, चंचल और खंजर से नैनोंवाली स्त्री का संभोग नहीं किया, उसका जीवन व्यर्थ गया ।
______________________________
.

अगर हम कहें और वो मुस्कुरा दें
हम उनके लिए ज़िंदगानी लुटा दें










.

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #97  
Old 20th March 2016
kirank1994's Avatar
Custom title
 
Join Date: 14th September 2015
Posts: 111,719
Rep Power: 274 Points: 205094
kirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps databasekirank1994 has hacked the reps database
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 24,888
Rep Power: 68 Points: 43625 ++,25


Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #98  
Old 20th March 2016
komaalrani's Avatar
Custom title
  Hero of Stories: Regularly posts good stories      
Join Date: 25th November 2011
Location: India
Posts: 32,855
komaalrani has disabled reputations
Quote:
Originally Posted by sheraz007 View Post
to u mam
+25 added with and lot of thanks ...
______________________________
जोरू का गुलाम ,

Rains

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #99  
Old 20th March 2016
FrankanstienTheKount's Avatar
The saint
 
Join Date: 7th March 2015
Posts: 91,382
Rep Power: 182 Points: 117840
FrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps databaseFrankanstienTheKount has hacked the reps database
______________________________

मैं चुनौतियों से नही, चूतियों से परेशान हूँ।

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
  #100  
Old 20th March 2016
sultania's Avatar
MAKER OF DIFFRENT TYPE THREDS
Visit my website
  Annual Masala Awards: Thread of the Year      
Join Date: 5th May 2007
Location: HIMALAY
Posts: 23,397
Rep Power: 117 Points: 81812
sultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps databasesultania has hacked the reps database
good story keep going
______________________________
हकलाते हैं तो संस्कृत सीखें,जो व्यक्ति धाराप्रवाह बोल नहीं पाते, अटकते हैं या फिर हकलाते हैं उन्हें संस्कृत सीखना चाहिए।संस्कृत से हकलाना भी खत्म हो जाता है।EVERY POST QUALITY POST

Reply With Quote
Have you seen the announcement yet?
Reply Free Video Chat with Indian Girls



Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

vB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off
Forum Jump


All times are GMT +5.5. The time now is 06:19 PM.
Page generated in 0.03272 seconds